जी_20_सम्मेलन : पीएम मोदी और डोनाल्‍ड ट्रंप के बीच हुई मुलाकात, हाई टैरिफ, ईरान, 5-जी पर हुई चर्चा।

जी_20_सम्मेलन : पीएम मोदी और डोनाल्‍ड ट्रंप के बीच हुई मुलाकात, हाई टैरिफ, ईरान, 5-जी पर हुई चर्चा।

ओसाका : जापान के ओसाका में आज से जी-20 सम्मेलन शुरु हो गया है। आज सुबह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच महामुलाकात हुई। इस मुलाकात में मोदी और ट्रंप के बीच अमेरिकी प्रोडक्ट्स पर भारत के हाई टैरिफ समेत ईरान, 5-जी, द्विपक्षीय संबंध और रक्षा संबंधों पर चर्चा हुई. इस दौरान पीएम मोदी ने लोकसभा चुनाव में प्रचंड जीत के बाद डोनाल्ड ट्रंप की बधाई का धन्यवाद दिया। मोदी ने कहा कि भारत और अमेरिका के संबंध आगे बढ़ते रहें, इसके लिए हम प्रयास करते रहेंगे। मोदी और ट्रंप के बीच करीब एक घंटे तक मुलाकात हुई।

पीएम मोदी ने ‘JAI’ कहा
जापान के ओसाका में चल रहे जी-20 सम्मेलन में पीएम मोदी और ट्रंप ने मुलाकात की। इस दौरान पीएम मोदी ने ट्रंप को लोकसभा चुनावों में जीत के लिए बधाई देने पर धन्यवाद भी दिया। इतना ही नहीं ट्रंप से मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने एक एकजुटता दिखाते हुए ‘JAI’ कहा, जिसका मतलब जापान (Japan), अमेरिका (America) और भारत (India) था। मुलाकात के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि ये खुशी की बात है कि आपने (ट्रंप) लोकसभा चुनाव के दौरान प्रचंड बहुमत मिलने पर मुझे फोन करके बधाई दी। मैं फिर एक बार आपको धन्यवाद देता हूं। कल आपकी एक चिट्ठी मिली। इससे साफ जाहिर होता है कि भारत के प्रति जो आपका प्यार है, उसको आपने अभिव्यक्त किया है।

सबका साथ-सबका विकास ही हमारा मंत्र : मोदी
पीएम मोदी ने आगे कहा। हाल ही में भारत आए अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ के साथ कई विषयों पर चर्चा हुई। मोदी ने कहा कि भारत अमेरिका से ईरान, 5जी, दिपक्षीय संबंध और रक्षा संबंध जैसे चार मुद्दों पर बात करना चाहेगा। उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका के संबंध आगे बढ़ते रहें, इसके लिए हम प्रयास करते रहेंगे। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि सबका साथ-सबका विकास ही हमारा मंत्र है।

प्रोडक्ट्स पर बढ़ाए गए टैरिफ वापस ले भारत : ट्रंप
पीएम मोदी के बाद अपने भाषण में डोनाल्ड ट्रंप ने भारत की तरफ से अमेरिका के प्रोडक्टस पर बढ़ाए गए टैरिफ का मुद्दा छेड़ा। ट्रंप ने कहा कि भारत हमारे प्रोडक्ट्स पर बढ़ाए गए टैरिफ वापस ले। इससे पहले कल ट्रंप ने ट्वीट करके लिखा था। मैं इस बारे में प्रधानमंत्री मोदी से बातचीत करने के लिए उत्सुक हूं कि भारत कई साल से अमेरिका से बहुत अधिक शुल्क ले रहा है और हाल ही में उसने टैरिफ में और अधिक इजाफा किया है। इसे मंजूर नहीं किया जा सकता और टैरिफ को वापस लेना होगा।

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *