ICC_WORLD_CUP : बारिश की वजह से पूरा नहीं हो पाया भारत और न्यूजीलैंड का मैच, कल जहां खेल रुका वहीं से आज फिर होगा मुकाबला।

ICC_WORLD_CUP : बारिश की वजह से पूरा नहीं हो पाया भारत और न्यूजीलैंड का मैच, कल जहां खेल रुका वहीं से आज फिर होगा मुकाबला।

मैनचेस्टर : भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व कप का पहला सेमीफाइनल बारिश की वजह से पूरा नहीं हो पाया है, अब मैच आज रिजर्व डे को पूरा किया जाएगा. बारिश के कारण मैच कीवी टीम की पारी के 46.1 ओवर बाद रुका, फिर शुरू नहीं हो सका। न्यूजीलैंड ने मैच रुकने तक पांच विकेट पर 211 रन बना लिए थे। आज इसी के आगे से मैच शुरू होगा। हालांकि मैनचेस्टर में आज भी बारिश का अनुमान है। अगर मैच नहीं हुआ तो भारत फाइनल में पहुंच जाएगा क्योंकि उसके अंक न्यूजीलैंड से ज्यादा थे।

सेमीफाइनल में कल भारतीय गेंदबाजों ने कमाल का प्रदर्शन किया। न्यूजीलैंड को बड़ा स्कोर बनाने से रोक दिया। न्यूजीलैंड के सबसे इन फॉर्म बल्लेबाज कप्तान केन विलियमसन भी बड़ी पारी नहीं खेल सके. पहले 10 ओवर में न्यूजीलैंड ने 1 विकेट गंवाकर 27 रन बनाए. 11 से 20 ओवर में न्यूजीलैंड ने एक विकंट गंवाकर 46 रन बनाए. 21 से 30 ओवर के बीच न्यूजीलैंड ने बिना विकेट गंवाए 40 रन बनाए। 31 से 40 ओवर के बीच में न्यूजीलैंड ने 1 विकेट गंवाकर 42 रन बनाए।

दरअसल न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। मैदान पर बादल थे और पिच में नमी। इसका पूरा फायदा जसप्रीत बुमराह एंड कंपनी ने उठाया। शुरुआत में तो बुमराह और भुवी ने सटीक गेंदबाजी कर न्यूजीलैंड को मैच से आधा बाहर ही कर दिया था। न्यूजीलैंड के बल्लेबाजों ने कुल 153 गेंद डॉट खेली। मतलब 25.3 ओवर में उन्होंने एक भी रन नहीं बनाया। खेल रोके जाने तक न्यूजीलैंड की पूरी पारी में 14 चौके और 1 छक्का लगा।

ये आंकड़े बताने के लिए काफी हैं कि कीवी बल्लेबाजों को भारतीय गेंदबाजों ने कितना परेशान किया. तेज गेंदबाजों की बात करें तो खेल रोके जाने तक बुमराह ने 8 ओवर में सिर्फ 25 रन देकर एक विकेट लिया। जबकि भुवी ने 8.1 ओवर में 39 रन देकर 1 विकेट लिया। हार्दिक पांड्या ने 10 ओवर में एक विकेट लेकर 55 रन दिए. भारतीय स्पिनर्स में जडेजा ने शानदार गेंदबाजी की जबकि चहल थोड़े महंगे साबित हुए लेकिन विकेट दोनों को मिला. जडेजा ने 10 ओवर में 34 रन देकर एक विकेट लिया जबकि चहल को एक विकेट के लिए 63 रन खर्च करने पड़े। भारतीय गेंदबाजों ने सेमीफाइनल में जिस तरह का प्रदर्शन किया है, उससे उन्होंने भारत को आधा तो फाइनल में पहुंचा ही दिया है। अब टीम इंडिया को फाइनल में पहुंचाने की जिम्मेदारी बल्लेबाजों पर होगी और जिस तरह भारतीय बल्लेबाजी इस वर्ल्ड कप में दिखी है, उससे भारत का फाइनल में पहुंचना तय ही लग रहा है।

administrator

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *